Follow us on Facebook

Connect Founder of NOTA Sena

Follow us on Twitter

Join NOTA Sena Facebook Group

 
नोटा सेना
Public group · 11 members
Join Group
 

राजनैतिक दलों को सबक सिखाने के लिए “नोटा सेना” से तुरंत जुड़ें।


एमपी, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के चुनावों में नाराज वोटरों द्वारा नोटा में जमकर वोटिंग हुई और नोटाधारियों ने सभी राजनैतिक दलों की हालत खराब कर दी। लगभग 6 लाख वोट नोटा के समर्थन में पड़े और नोटा की क्रांति का उदय हुआ।
विशेषज्ञों ने मानना था कि नोटा के समर्थन में हुई वोटिंग ने भाजपा को तीनों राज्यों में हार दिलाई। दूसरा पक्ष ये है कि नोटा न होता तो भाजपा से नाराज़ वोटर स्वाभाविक रूप से काँग्रेस को वोट करते और काँग्रेस का वोट बड़ता, जो नहीं हुआ। अगर नोटा न होता तो काँग्रेस के वोट बड़ने से काँग्रेस को और बड़ी जीत मिलती। लेकिन नाराज वोटर कॉंग्रेस को भी वोट नहीं करना चाहते थे तो उन्होने नोटा को ही वोट दिया।
इन 3 राज्यों के चुनावों के निर्णयों ने देश को नोटा की ताकत से अवगत करा दिया और सभी राजनैतिक दल आज नोटाधारियों के सामने नतमस्तक हैं। यही कारण है कि मोदी सरकार तुरत्न साधारण श्रेणी के नागरिकों के लिए 10% के आरक्षण का कानून लाई। वो अलग बात है कि इस आरक्षण से सवर्णों को विशेष लाभ नहीं मिलेगा। किन्तु नोटा की शक्ति के प्रभाव में ही भाजपा से नाराज़ वोटरों को लुभाने के लिए मोदी सरकार एक्शन में आई।
किन्तु अब ये नोटा की क्रांति रुकने वाली नहीं है। किन्तु अब ये नोटा की क्रांति रुकने वाली नहीं है। क्यूंकी नोटा समर्थकों की समस्याओं का अंत नहीं हुआ है। अब जनता का सबसे बड़ा हथियार नोटा ही बनेगा। क्यूंकी अब देश को ये समझ आ गया है कि राजनैतिक दलों से कोई भी मांग पूरी करवाने के लिए नोटा का दबाव सबसे अधिक प्रभावशाली है। इसलिए अब राष्ट्रव्यापी नोटा सेना का गठन किया गया है। ये नोटा सेना लाखों की संख्या में लोगों को जोड़कर राजनैतिक दलों से जनता की मांगे पूरा करवाएगी।
ये नोटा सेना ही एससी, एसटी एक्ट, नौकरियों, विद्यार्थियों, व्यापारियों और महिलाओं की समस्याएँ सुलझाएगी।
किसानों के लिए आज नोटा सेना ही सबसे बड़ा शस्त्र बनेगा जो स्वतन्त्रता के बाद से आजतक किसानो की सुलझ न सकी समस्याओं को दूर करेगा।
इसलिए देश के सभी वर्गों के आव्हान से है कि ज़ोर शोर से नोटा सेना का सदस्य बने और अपने मित्रों को बनवाएँ।
एमपी, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के चुनावों में नोटा के समर्थन में वोट करने वाले शीघ्र से शीघ्र देश के सबसे बड़ी नोटा सेना से जुड़ें और अपनी मांगों को पूरा करवाने के लिए आगे बड़ें।

नोटा सेना से जूड़ने के लिए नीचे दिया फॉर्म भरें। 

Comments